Pdf of English Grammar (parts of speech)

part of speech

0

मेरे प्यारे मित्रो आज फिर से में आपके लिए बहुत ही महत्वपूर्ण Pdf of English Grammar ( part of speech ) लेकर आया हु जो आपके आने वाली सभी तरह की सरकारी व् अन्य परीक्षाओ के लिए बहुत ही ज्यादा महत्वपूर्ण है । जैसे railway , पटवारी , एसएससी आदि ।आज में आपके लिए  Pdf of English Grammar ( part of speech ) लेके आया हु जोकि इंग्लिश Grammar का एक बहुत ही महत्वपूर्ण टॉपिक हे । आगे भी में आपके लिए ऐसे ही महत्वपूर्ण टॉपिक्स लाता रहूंगा । आइये शुरू करते है

सबसे पहले में आपको Pdf of English Grammar (parts of speech) के सभी पार्ट्स के बारे में बताऊंगा । जो भी हम बात करते हे वे सभी पार्ट ऑफ़ स्पीच का हिस्सा होते हे । में आपको बता दू की

पार्ट ऑफ़ स्पीच के मुख्य 8 पार्ट्स होते हे आइये इन पार्ट्स के बारे में विस्तार पूर्वक जानते हे ।

1 Nouns                                           5 Adverbs

2 pronouns                                     6 prepositions

3 Adjectives                                    7 Conjunctions

4 verbs                                             8 Articles

Pdf of English Grammar (parts of speech)

अब में आपको इन सभी टॉपिक्स के बारे में एक एक करके विस्तार से बताऊंगा की किस प्रकार ये सभी मिलकर पार्ट्स ऑफ़ स्पीच बनाते हे । कोई भी बोलै गया सेंटेंस पार्ट ऑफ़ स्पीच का हिस्सा ही होता है ।

1 Nouns |( first part of speech)   किसी भी व्यक्ति , स्थान , वस्तु , आदि के नाम का बोध या इसके बारे में जानकारी देने वाले शब्दो को nouns( संज्ञा ) कहते हे ।

For Example:
Ram (राम ) – Ram
Table (टेबल ) – Table

Types of noun – nouns को 5 भागो में वर्गीकृत किया गया हे ।

1 proper noun      2 common noun

3 collective noun   4 material noun

5  abstract noun

1 Proper noun – A Noun which belongs to a particular or individual name, person, place or thing is called as proper noun.
(जो किसी भी व्यक्ति, स्थान या वस्तु का बोध कराता है, उसे व्यक्तिवाचक संज्ञा  कहते है।

example:
Yamuna (यमुना )
Meena (मीना)
Mumbai (मुंबई)

2 common noun – Common nouns are the words which name the place, people, things etc but they are not the actual name of the place, people or things. For instance, “boy” is a common noun and the boy’s name is “Arun” which is proper noun as it specifies the name.
(वैसे नाम जिनसे जाति भर का बोध हो उसे  जातिवाचक संज्ञा कहते है।

For example:
Gaon (गांव ) – Village
Pashu (पशु) – Animal
Pahad (पहाड़ ) – Hill

3 collective noun – Name have been assigned to some special groups is called collective noun.
(वैसा संज्ञा जिससे पूरे समूह का बोध हो उसे समूहवाचक संज्ञा कहते है। )
For example:
Bheed (भीड़) – Crowd
Bunch (गुच्छा ) – Bunch

Mall me bhut bheed hai (मॉल में बहुत भीड़ है ) – Mall is fully crowded.
Angoor ka guchha. (अंगूर का गुच्छा।) – Bunch of grapes.

4 mattrial noun – Nouns that refer to the names of a liquid or matter is called as material noun.
(वैसा संज्ञा जो तरल  अवस्था मे हो जिसकी गिनती संभव नही हो सकती है  उसे द्रववाचक संज्ञा कहते है।

For example:
His anger knows no limits. (उनका गुस्सा कोई सीमा नहीं जानता).
Gold is so expensive. (सोना बहुत महंगा है।

5 abstract noun – Abstract Noun is the word which is used as the name of quality, action that quality and action is considered as an object is called abstract noun.
(वैसा संज्ञा जिसका रूप और आकार नही होता  है केवल  गुण  का आभास होता है उसे समूहवाचक संज्ञा कहते है।)

For example:
Beauty (सुुुंदर )
Kind (दयालु )
Honest (ईमानदार

तो दोस्तों ये था पार्ट ऑफ़ स्पीच का फर्स्ट पार्ट नाउन आगे हम अन्य पार्ट्स के बारे में बात करंगे

2 pronouns( second part of sppech)  –  A pronoun is a word used instead of a noun. (मतलब  वाक्य में ऐसा शब्द जो noun की जगह आता है. उस शब्द को ही pronoun कहा जाता है.)

Types of pronoun

1. Subjective/Personal pronoun:-

इसे दो नामो से ज्याना जाता है. एक subjective और दूसरा personal नाम से जाना जाता है. नाम की तरह यह किसी भी वाक्य में एक subject(कर्ता) की तरह काम करता है.

Example – I, We, You, He, She, It, They, etc.

2. Objective pronoun:-

ऑब्जेक्टिव प्रोनाउन वाक्य में object की तरह काम करता है. आम तोर पर पर हम इनका उपयोग simple और passive voice के sentences के लिए करते है.

Example – Me, You, Her, Him, Their, Our, etc.

3. Possessive Pronoun:- 

क्या आप जानते है. यहापर possessive का अर्थ क्या है. इसका अर्थ यहापर अधिकार यह होता है. Practically अगर उदाहरन देखे – तो हम हमारे लैंग्वेज में किसी चीज पर अधिकार दर्शाता है. जैसे यह मेरा हे, ये उसका है. यह मेरे पापा का है. सीधे शब्द में किसी चीज पर अधिकार दर्शाने के लिए possessive pronoun का इस्तेमाल किया जाता है.

Ex – His, her/hers, my/mine, your/yours, their/theirs, our/ours

4. Reflexive Pronoun:- 

इस प्रकार के प्रोनौन स्वयं अथवा खुद के बारे में बोध करने के लिए जाता है. इसके जरिये subject खुदके बारे में बोलता है. ex – I will do it myself.

Example:- Himself, herself, myself, yourself, etc.

5. Indefinite Pronoun:- 

Indefinite का मतलब अनिच्छित होता है. यह तभी use किया जाता है. जब आप कही सारे लोगो को संबोधित कर रहे हो तब. में जनता हूँ. आप थोड़े से कंफ्यूज हुए होंगे. में इसे आपको उदाहरन देकर समझाता हूँ.

Examples – All, both, each, everyone, anyone, one few, etc.

6. Demonstrative pronoun 

यह प्रोनौन का ऐसा प्रकार है. जो किसी नाउन को पॉइंट करता है. आम तोर पर हम इनका इस्तेमाल ऊँगली का इस्तेमाल करके करते है.

उदाहरन – मान लीजिये हमारे सामने कोई किताब पड़ी हुयी है. तब हम कहते है.

This is a book. { यहापर देखिये बुक एक नाउन है और में उसे demonstrative pronoun के सहारे point कर रहा हूँ.}

Example – This, that, these, those, etc.

7. Interrogative pronoun

इसकी परिभाषा को समजे. तो interrogative प्रोनाउन का इस्तेमाल प्रश्न पूछना के लिए किया जाता है. लेकिन उसका जवाब हमेशा कोई noun ही होगा.

उदाहरन – What is your name? ( इसका जवाब किसी व्यक्ति का नाम होगा जो की एक नाउन है.)

Example – What, which, whom, where, whose, etc.

आइये अब हम पार्ट ऑफ़ स्पीच के अगले पार्ट एडवर्ब की बात करते हे ।

3 Adverbs-( third part of speech)

Definition: Those words that tell us more about action are called Adverb.
परिभाषा :- क्रिया की विषेशता बताने वाले शब्दों को क्रिया विषेशण कहते है।

जैसें (For Example) :-
1. लता मंगेषकर अच्छा गाती है। (रीति – Method). Lata Mangashgar aacha gati hai.(Lata Mangashgar sings very well)
2. दीपावली कल मनाई जाएगी। (समय – Time).  Diwali kal manayi jayegi.(Diwali will be celebrated tomorrow.)

adverbs मुख्यतय 4 प्रकार के होते हे

++

In Hindi, those words that tell us the method of the action are known as Adverb of Manner.

जैसे (For example) :-
1. वे हमारी कहानी ध्यानपूर्वक सुन रहे थे। Veh hamari kahani dhayanpurvak sun rahe the. (They were listening to our story carefully.)

2. कालवाचक क्रिया विषेशण (Adverb of Time)

In Hindi, those words which give us the information about the time of a action is called Adverb of Time.
जैसे (For Example) :-
1. माता जी अभी गई हैं। Mata ji abhi gayi hain. (Mother has just gone.)

3. स्थानवाचक क्रिया विषेशण (Adverb of Place) :-

Those words which tell about the place or direction of the action.
जैसे (For example):-
1. बच्चे ऊपर खेल रहे हैं। Bacche uppar khel rahe hain. (Children are playing upstairs.)
2. पिताजी अन्दर बैठे है।  Pita ji aandar bathe hain. (Father is sitting inside.)

4. परिमाणवाचक क्रिया विषेशण (Adverb of Quantity ) :-

Those words which give the measure (quantity) of action are called Adverb of Quantity.

जैसे (For example):-
1. अब में बिल्कुल थक चुका हूँ।  Ab mein bilkul thak chuka hoon. (Now, I am surely/totally exhausted.)

आइए अब हम verbs के बारे में जानते हे

4 verbs-( fourth part of speech) a word or group of words that is used to indicate that something happens or exists, for example bring, happen, be, do

क्रिया (ऐसा शब्‍द या वाक्‍यांश जो किसी घटना के घटने या किसी वस्‍तु के अस्तित्व में होने का अर्थ दे, जैसे ‘bring’, ‘happen’, ‘be’, ‘do’
  • 5 conjunction- ( fifth part of speech)  In Hindi, Conjunction is called “समुच्चयबोधक” (Samucchy Bodak) which comes from two word, “समुच्चय” which mean combination and “बोधक” which means indicator. These are the words that shows the combination of given type in the given sentence.

Conjunction in Hindi are of 3 types:

1. संयोजक (Sanyojak – Connective)

2. विभाजक (Vibhajak – Separative)

3. विकल्पसूचक (Vikalp Suchak – Alternative Indicator)

  • 6 preposition-( six part of speech) Preposition in Hindi is called संबंध बोधक (Sanbandha Bodhak). Prepositions are important as they join the various part of the sentences (noun, pronouns etc) to form a logical sentence.

7 conjunction -(seven part of speech)

Conjunction is called “समुच्चयबोधक” (Samucchy Bodak) which comes from two word, “समुच्चय” which mean combination and “बोधक” which means indicator. These are the words that shows the combination of given type in the given sentence.

Conjunction in Hindi are of 3 types:

1. संयोजक (Sanyojak – Connective)

2. विभाजक (Vibhajak – Separative)

3. विकल्पसूचक (Vikalp Suchak – Alternative Indicator)

पार्ट ऑफ़ स्पीच का लास्ट पार्ट हे –

8 Articles -( eight part of speech ) A, An, and The are generally known as article. An article is a word that modifies or describes the Noun. – इंग्लिश ग्रामर में A, An, और The इन तीन शब्दों को Article(उपपदे) के नाम से जाना जाता है. आर्टिकल एक ऐसा शब्द है. जो noun को describe अथवा modify करता है. इसिवजह article को adjective भी कह सकते है. Because it is describing something about nouns.

A, An और The यह तीनो तो हमारे आर्टिकल हो गये. लेकिन English grammar में article को two parts में divide किया गया है.

  1. Indefinite Article (अनिच्छित उपपद)
  2. Definite Article (निच्छित उपपद)

मित्रो इसे के साथ में इंग्लिश ग्रम्मेर के टॉपिक पार्ट ऑफ़ स्पीच का अंत करता हु उम्मीद करता हु की यह पीडीऍफ़ आपके लिए महत्वपुर्ण जानकारी का स्रोत होगा । धन्यवाद ।

इंग्लिश की सबसे बेस्ट पीडीऍफ़ यहाँ से डाउनलोड करे:

Complete 7300 GK English Grammar PDF

Complete Important SSC CGL Noun Practice Set

English Grammar Complete Book in Hindi PDF

Important English Grammar PDF in Hindi

Leave A Reply

Your email address will not be published.