{Latest Version*} Vision IAS Environment Notes in Hindi PDF

Vision IAS Environment Notes in Hindi PDF

0

Vision IAS Environment Notes in Hindi PDF

Contents

Download Vision IAS Environment Notes in Hindi PDF: हेलो दोस्तों आज हम आपके लिए Environment PDF लेकर आये है इस Book में हम आपको सभी प्रकार की प्रश्नोत्तर उपलब्ध कराएंगे इसके साथ साथ Complete पर्यावरण Books भी यंहा से बड़ी आसानी से डाउनलोड कर लाभ उठा पाएंगे | दोस्तों हमारी वेबसाइट आपके लिए रोज ऐसी नई नई PDF प्रधान करती है जो आने वाले सभी सरकारी एग्जाम में बोहत ही महत्वपूर्ण साबित हो सकती है |SSC, UPSC, Bank, Railway, State PCS, MPPSC, UPPSC, RPPSC, Defence and Army Exams और भी ऐसे एग्जाम है जिसमे GK Complete PDF बहुत महवत्पूर्ण हो सकती है हमारी वेबसाइट पर आपको हर तरह की सब्जेक्ट वाइज PDF जैसे Maths, Reasoning, General Knowledge, General Science, Environment, Indian History, Indian Polity, Indian Geography, World History, GK & Current Affairs, English Grammar, Hindi Grammar, State Wise GK Notes, Handwritten Notes, Class Notes, Physics, Chemistry, Biology, Static GK, One Liner Questions के साथ-साथ Online Quiz, Test Series, Previous Year Exam Questions, Practice Book, Most Important Question Answers, Practice Set की सभी प्रकार की पीडीऍफ़ उपलब्ध कराती है| अगर आपको किसी तरह की परेशानी आती है तो आप हमे कमेंट बॉक्स में कमेंट करके अपनी परेशानी बता सकते है| हमे आपकी एग्जाम से सम्बन्धित किसी भी प्रकार की समस्या को हल करने में बहुत ही खुशी होगी|

Environment Notes (पर्यावण):

हमारे आस पास पाये जानेवाली सभी वस्तु जैसे: पेड़ पौधे जिव जन्तु नदी तालाब मिट्टी यहाँ तक की मनुष्य भी इनके समूह से मिला होता है पर्यावरण मुख्य रूप से दो प्रकार के होते है
• पर्यावरण की परिभाषा  
• पर्यावरण की संरचना व प्रकार  
• भौतिक पर्यावरण  
• जैविक पर्यावरण  
• सामाजिक – सांस्कृतिक पर्यावरण 
• पर्यावरण का विषय – क्षेत्र  
•  स्थलमण्डल   
• जलमण्डल   
• वायुमण्डल   
• जैवमण्डल   
• मानव पर्यावरण सम्बन्ध   
• आखेट एवं भोजन संग्रह कारक  
• पशुपालन एवं पशुचारण काल   
• पौधपालन एवं कृषि काल   
• विज्ञान प्रौद्योगिकी एवं औद्योगीकरण काल   
• पर्यावरण पर मानव का प्रभाव   
• जनजागरूकता या चेतना   
• बढ़ती जनसंख्या  
• गरीबी  
• कृषि विकास   
• पानी की जरूरत  
• नगरीकरण का दुष्परिणाम   
• वायु और जल प्रदूषण   
• पर्यावरणीय शिक्षा   
• पर्यावरण संरक्षण को समर्पित दिवस  
• सतत् विकास या टिकाऊ विकास  
• संयुक्त राष्ट्र का एजेण्डा -2030   
• धारणीय या स्थायी विकास  
• पर्यावरण का महत्व

पारिस्थितिकी तन्त्र 

(Ecosystem)
• पारिस्थितिकी 
• पारिस्थितिकी तन्त्र  
• पारिस्थितिकी तन्त्र की विशेषताएं  
• पारिस्थितिकी विज्ञान की शाखाएँ  
• स्वयं पारिस्थितिकी  
• समुदाय पारिस्थितिकी 
• आबादी पारिस्थितिकी  
• पारिस्थितिकी तन्त्र पारिस्थितिकीय के अंतर्गत  
• जलीय पारिस्थितिकी  
• स्थलीय पारिस्थितिकी 
• पारिस्थितिक कारक  
• पारिस्थितिकी तंत्र के संघटक 
• जैविक संघटक  
• उत्पादक 
• उपभोक्ता  
• प्राथमिक उपभोक्ता  
• द्वितीयक उपभोक्ता  
• तृतीयक उपभोक्ता 
• मृतक या मृतजीवी  
• अजैविक संघटक 
• कार्बनिक संघटक  
• अकार्बनिक संघटक  
• भौतिक संघटक 
• इकोसॉफी 
• गहन पारिस्थितिकी  
• सतही विचारधारा  
• पारिस्थितिकीय कर्मता 
• पारिस्थितिकी तंत्र की क्रिया  
• संतुलित पारिस्थितिकी तंत्र  
• पारिस्थितिकी तंत्र की स्थिरता 
• आहार श्रृंखला 
• खाद्य जल  
• पारिस्थितिकी तंत्र के प्रकार 
• जलीय पारिस्थितिकी तंत्र 
• स्थलीय या पार्थिव पारिस्थितिकी तंत्र 
• नदी पारिस्थितिकी तंत्र 
• टुण्ड्रा पारिस्थितिकी तंत्र 
• शीतोष्ण पतझड़ पारिस्थितिकी 
• टैगा पारिस्थितिकी तंत्र 
• शीतोष्ण वर्षा पारिस्थितिकी तंत्र 
• शीतोष्ण पतझड़ या भूमध्यसागरीय पारिस्थितिकी तंत्र 
• स्टेपी या शीतोष्ण घास मैदान पारिस्थितिकी तंत्र 
• सवाना वन पारिस्थितिकी तंत्र 
• उष्ण कटिबंधीय वर्षा वन पारिस्थितिकी तंत्र 
• रेगिस्तानी वनस्पति पारिस्थितिकी तंत्र 
• पारिस्थितिकीय पिरामिड 
• संख्या पिरामिड 
• बायोमास पिरामिड 
• ऊर्जा पिरामिड  
• पारिस्थितिकी तंत्र का वर्गीकरण
 

जैव विविधता 

(Biodiversity) 
• जैव विविधता के प्रकार 
• आनुवंशिक विविधता 
• प्रजातीय विविधता 
• सामुदायिक या पारितंत्र विविधता 
• जैव विविधता का मापन 
• अल्फा विविधता 
• बीटा विविधता 
• गामा विविधता 
• जैव विविधता का महत्व 
• सौन्दर्यपरक महत्व 
• उत्पादकता का महत्व 
• सामाजिक या पारितन्त्र का महत्व 
• कृषि में जैव विविधता का महत्व 
• जैविक विविधता के संघटक का मूल्य 
• वैश्विक जैव विविधता 
• अत्यधिक जैव विविधता वाला जोन 
• अधिक जैव विविधता वाला जोन
• कम विविधता वाला जोन  
• निम्न जैव विविधता वाला जोन 
• भारतीय जैव विविधता 
• भारत के तीन जैव विविधता हॉट स्पॉट पश्चिमी घाट 
• इण्डो – बर्मा क्षेत्र 
• हिमालय जैव विविधता हॉट स्पॉट 
• समुद्री जैव विविधता क्षेत्र 
• जैव भौगोलिक क्षेत्र  
• हिमालय 
• उत्तर – पश्चिम हिमालय  
• मरुस्थल 
• पश्चिमी घाट 
• अर्द्ध शुष्क 
• दक्कन प्रायद्वीपीय पठार 
• गंगा का मैदानी क्षेत्र 
• तटीय क्षेत्र  
• उत्तर – पूर्व प्रदेश 
• द्वीप समूह 
• विश्व के प्रमुख हॉट स्पॉट 
• संकटग्रस्त प्रजातियाँ 
• विश्व की प्रमुख संकटग्रस्त प्रजातियाँ 
• भारत की संकटग्रस्त प्रजातियाँ 
• अति संकटग्रस्त जातियाँ 
• संकटापन्न प्रजातियाँ 
• संवेदनशील प्रजातियाँ 
• अन्य संकटग्रस्त प्रजातियाँ जैव विविधता ह्रास के कारण  
• प्राकृतिक आवासों का विनाश 
• आवासों का बिखराव 
• प्रदूषण 
• वन्य जीवों का अवैध शिकार प्राकृतिक आपदायें 
• स्थानान्तरित कृषि 
• विदेशी प्रजातियों का आक्रमणकारी प्रभाव 
• जैव विविधता का संरक्षण 
• संरक्षण के स्वस्थाने उपाय  
• राष्ट्रीय उद्यान 
• वन्यजीव अभयारण्य 
• संरक्षण एवं समुदाय आकार  
• समुद्री संरक्षित क्षेत्र  
• भारत के पवित्र उपवन 
• जैवमण्डल रिजर्व  
• जैवमण्डल रिजर्व के कार्य  
• जैवमण्डल रिजर्व की संरचना 
• कोर जोन 
• बफर जोन 
• संक्रमण जोन 
• भारत में जैवमण्डल रिजर्व 
• संरक्षण के परास्थाने उपाय 
• जीन पूल सेंटर 
• चिड़ियाघर 
• बॉटेनिकल गार्डेन 
• भारत के महत्वपूर्ण बॉटेनिकल गार्डेन 
• जैव विविधता संधि 
• विश्व विरासत संधि 
• रामसर (आर्द्रभूमि) संधि  
• राष्ट्रीय जलीय पारिस्थितिकी तंत्र संरक्षण योजना 
• जैव विविधता अभिसमय 
• कार्टाजेना जैव सुरक्षा प्रोटोकॉल 
• CDB के अंतर्गत कोप -10 
• नगोया प्रोटोकॉल 
• आइची लक्ष्य 
• जैव विविधता सम्मेलन

पर्यावरण संगठन 

(Environmental Organisation)
• वर्ल्ड वाइड फंड फॉर नेचर इण्डियन 
• द बॉम्बे नेचुरल हिस्ट्री सोसायटी 
• पर्यावरण शिक्षा केंद्र 
• विज्ञान और पर्यावरण केंद्र 
• सी . पी . आर . एनवायरमेंटल सेंटर 
• पर्यावरण एवं विकास का विश्वव्यापी आयोग 
• भारती विद्यापीठ इंस्टीट्यूट ऑफ एनवायरमेंट
•  एजूकेशन एण्ड रिसर्च 
• द बोटैनिकल सर्वे ऑफ इण्डिया 
• भारत का वन्य जीव संस्थान 
• संयुक्त राष्ट्र पर्यावरण कार्यक्रम
• भारतीय वन सर्वेक्षण 
• वानिकी अनुसंधान संगठन 
• ओजोन प्रकोष्ठ 
• जलवायु और पर्यावरण अनुसंधान संस्थान 
• भारतीय प्राणी सर्वेक्षण 
• हिमनद प्राधिकरण  
• राष्ट्रीय नदी संरक्षण निदेशालय 
• केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड 
• राष्ट्रीय हरित न्यायाधिकरण 
• राष्ट्रीय बाघ संरक्षण प्राधिकरण 
• उत्कृष्टता केन्द्र 
• भारतीय पशु कल्याण बोर्ड 
• आपदा प्रबंधन 
• पर्यावरण संबंधित भारतीय संगठन 
• राष्ट्रीय संगठन और अभिकरण 
• सरकारी मंत्रालय और विभाग 
• गैर सरकारी संगठन 
• अनुसंधान संगठन शैक्षिक और प्रशिक्षण संस्थान  
• अन्तर्राष्ट्रीय संगठन एवं अभिकरण।.
 

पर्यावरण प्रदूषण 

(Environmental Pollution)
• प्रदूषक 
• प्रदूषक के प्रकार 
• वायु प्रदूषण  
• प्राकृतिक स्रोत 
• मानव जनित स्रोत 
• गैसीय वायु प्रदूषक 
• कणिकीय प्रदूषक 
• वायु प्रदूषकों के प्रकार 
• वायु प्रदूषण नियंत्रण के उपाय 
• प्रमुख प्रदूषक एवं उनके उत्पत्ति के स्थल 
• भारत के पाँच सबसे अधिक प्रदूषित क्षेत्र 
• जल प्रदूषण 
• जल प्रदूषण के स्रोत 
• जल प्रदूषण के प्रतिकूल प्रभाव 
• जल प्रदूषण का वर्गीकरण 
• जल प्रदूषण पर नियंत्रण 
• नमामि गंगे कार्यक्रम 
• गंगा प्रदूषण नियंत्रण 
• यमुना नदी का प्रदूषण नियंत्रण 
• भारत की सबसे अधिक 5 प्रदूषित नदियाँ 
• ध्वनि प्रदूषण के प्रभाव 
• ध्वनि प्रदूषण का नियंत्रण 
• भारत में ध्वनि प्रदूषण नियंत्रण के प्रावधान 
• ध्वनि प्रदूषण के कारक 
• मृदा प्रदूषण 
• मृदा प्रदूषण के कारक 
• मृदा प्रदूषण के प्रभाव 
• रेडियो एक्टिव प्रदूषण 
• रेडियो एक्टिव प्रदूषण के स्रोत 
• विकिरण के प्रभाव 
• रेडियोधर्मिता की इकाइयाँ 
• रेडियो एक्टिव प्रदूषण पर नियंत्रण के उपाय 
• विद्युत चुम्बकीय विकिरण प्रदूषण 
• ठोस अपशिष्ट प्रदूषण 
• भारत में ठोस अपशिष्ट 
• ठोस अपशिष्ट का प्रभाव  
• ठोस अपशिष्ट समस्या के कारक 
• ठोस अपशिष्ट का उपचार या प्रबंधन 
• ताप प्रदूषण 
• ताप प्रदूषण के कारक 
• ताप प्रदूषण के प्रभाव ताप प्रदूषण नियंत्रण उपाय 
• ई अपशिष्ट प्रदूषण 
• भारत में ई – अपशिष्ट 
• ई अपशिष्ट का प्रभाव 
• ई – परिसर ई – कचरा प्रबंधन नियम 2016 
• प्लास्टिक प्रदूषण 
• प्लास्टिक प्रदूषण का प्रभाव 
• प्लास्टिक कचरा प्रबंधन नियम -2016 जैव प्रदूषण  
• जैव उपचार।
 

सामुदायिक अन्तःक्रिया 

(Community Introduction)
• धनात्मक अन्तःक्रियाएँ 
• ऋणात्मक अन्तःक्रियाएँ 
• सहजीविता 
• जीवों के मध्य अन्तःक्रियाएं तथा परिणाम 
• अनुक्रमण 
• अनुक्रमण की प्रक्रिया 
• समुदाय के बीच में ऊर्जा का प्रवाह 
• पारिस्थितिकीय उत्पादकता 
• पारिस्थितिकीय तंत्र में पोषण पदार्थों की गति 
• सामुदायिक रचना पर की- स्टोन प्रजातियों का प्रभाव 
• की – स्टोन सूक्ष्मजीवियों का पर्यावरण पर प्रभाव 
• की – स्टोन प्रजाति का सूक्ष्म जलवायु पर प्रभाव।
 

पर्यावरण संरक्षण 

(Environmental Protection)
• पर्यावरण संरक्षण के लक्ष्य 
• संरक्षण की अवधारणा 
• संरक्षण के सिद्धान्त 
• पर्यावरण संरक्षण हेतु अन्तर्राष्ट्रीय जागरूकता एवं प्रयास 
• मानव पर्यावरण कॉन्फ्रेंस 
• पृथ्वी शिखर सम्मेलन 
• अर्थ +5 सम्मेलन 
• क्योटो ग्लोबल वार्मिंग कॉन्फ्रेंस 
• मॉन्ट्रियल सम्मेलन 1999 
• ओजोन परत नष्ट होने से बचाने के उपाय 
• पर्यावरण संरक्षण अधिनियम 1986
 

जीवमण्डल 

(Biosphere)
• पारितंत्र की संरचना 
• अजैव घटक 
• जैव घटक 
• अपघटक 
• जीव मण्डल : एक पारिस्थितिकी तंत्र 
• जीवमंडल के उपतंत्र 
• जीव मण्डल के परिवर्तनकर्ता 
• जीव मंडल के संघटक 
• शैल का वर्गीकरण 
• मृदा तंत्र 
• वायुमण्डल का संगठन 
• परिवर्तनमण्डल या क्षोभमण्डल 
• मध्यस्तर या क्षोभ सीमा 
• समताप मण्डल 
• ओजोन मण्डल .आयन मण्डल 
• आयतन मण्डल 
• वर्षा 
• संवहनीय वर्षा 
• पर्वतीय वर्षा 
• चक्रवातीय वर्षा 
• बादल 
• जलमण्डलीय संघटक 
• महाद्वीपीय मग्न तट 
• महाद्वीपीय मग्न ढाल 
• गहरे सागरीय मैदान 
• महासागरीय गर्त 
• महासागरीय जल की लवणता 
• महासागरीय धाराएँ 
• अटलाण्टिक महासागर की धाराएँ 
• प्रशान्त महासागर की धाराएँ 
• हिन्द महासागर की धाराएँ 
• पदार्थों के चक्र • जल चक्र 
 कार्बन चक्र 
• नाइट्रोजन चक्र 
• ऑक्सीजन चक्र 
• ऊर्जा संघटक 
• आहार श्रृंखला के विभिन्न स्तर 
• जैविक संघटक।
 

जलवायु परिवर्तन और ग्रीन हाउस प्रभाव 

(Climate Change & Green House Effects)
• जलवायु परिवर्तन के संकेतक 
• पुरा जलवायु के संकेतक 
• हरित गृह 
• हरित गृह गैसें 
• ग्रीन हाउस प्रभाव 
• जलवायु परिवर्तन के खतरे एवं संवेदनशीलताएँ 
• भारत द्वारा जलवायु परिवर्तन पर किये गये महत्वपूर्ण उपाय 
• जलवायु परिवर्तन पर राष्ट्रीय कार्य योजना के तहत आठ मिशन 
• राष्ट्रीय सौर मिशन 
• राष्ट्रीय वर्धित ऊर्जा क्षमता मिशन 
• राष्ट्रीय वहनीय पर्यावास मिशन 
• राष्ट्रीय जल मिशन  
• राष्ट्रीय जलवायु परिवर्तन संबंधी कार्यनीति 
• राष्ट्रीय ग्रीन इण्डिया मिशन 
• राष्ट्रीय हिमालयी पारिस्थितिकी संवर्धन मिशन 
• राष्ट्रीय सतत् कृषि विकास मिशन 
• जलवायु परिवर्तन पर हुए सम्मेलन 
• मानव पर्यावरण सम्मेलन हेलसिंकी सम्मेलन 
• लंदन सम्मेलन 
• यूरोपीय वन्य जीवन तथा प्राकृतिक निवास क्षेत्र संरक्षण सम्मेलन 
• वियना सम्मेलन 
• मांट्रियल प्रोटोकाल 
• टोरण्टो वर्ल्ड कॉन्फ्रेंस 
• विश्व पृथ्वी सम्मेलन 1992 
• क्योटो सम्मेलन 
• जोहांसबर्ग सम्मेलन 
• मांट्रियल सम्मेलन 
• बाली सम्मेलन 
• कोपेनहेगेन सम्मेलन 2009 
• कानकुन सम्मेलन 2010 
• डरबन जलवायु परिवर्तन सम्मेलन 
• रियो +20 सम्मेलन 
• संयुक्त राष्ट्र का दोहा जलवायु सम्मेलन 
• संयुक्त राष्ट्र का वारसा जलवायु सम्मेलन 
• पर्यावरण जैवविविधता पर नवीनतम सम्मेलन 
• न्यूयॉर्क जलवायु शिखर सम्मेलन -2014 
• जलवायु परिवर्तन पर पेरिस समझौता कोप -21 
• वी -20 समूह का गठन 
• 2030 जलवायु कार्ययोजना के महत्वपूर्ण लक्ष्य 
• वैश्विक तापन 
• ग्लोबल वार्मिंग से बचने के उपाय।
 

वन एवं वन्य जीव संरक्षण 

(Forest and Wild Life Protection)
• प्राकृतिक वनस्पति  
• वन 
• उष्ण कटिबंधीय सदाबहार वन 
• शीतोष्ण सदाबहार वन 
• शीतोष्ण पर्णपाती वन 
• भूमध्यसागरीय वन
• शंकुधारी वन 
• कच्छ वनस्पति 
• मैंग्रोव की वनस्पति 
• मैंग्रोव के लाभ 
• भूमण्डल पर पाये जाने वाले वन 
• भारत में वन 
• हिमालय की वनस्पति पेटियाँ 
• भारत में वनों का प्रतिशत 
• पर्वतीय वनों की विशेषताएँ 
• हिमालय प्रदेश की लकड़ियाँ 
• मानसून वनों की लकड़ियाँ 
• राष्ट्रीय वन नीति 
• 1988 की नयी राष्ट्रीय वन नीति 
• नई राष्ट्रीय वन नीति 2016 
• सामाजिक वानिकी 
• वनों से संबंधित संगठन 
• पर्यावरण एवं वन मंत्रालय 
• भारतीय वनस्पति सर्वेक्षण 
• भारतीय वन सर्वेक्षण 
• भारत वन स्थिति रिपोर्ट 
• भारतीय प्राणी सर्वेक्षण 
• भारतीय वन प्रबन्धन संस्थान 
• भारतीय वन अनुसंधान एवं शिक्षा परिषद् 
• राष्ट्रीय पादप आनुवंशिक संसाधन ब्यूरो 
• वन महोत्सव 
• वनस्पतियों से मिलने वाली औषधियाँ 
• भारत के प्रमुख वन संस्थान एवं मुख्यालय 
• वन संरक्षण आंदोलन 
• चिपको आंदोलन 
• अप्पिको आंदोलन 
• नर्मदा बचाओ आंदोलन 
• जंगल बचाओ आंदोलन 
• नवदान्या आंदोलन 
• विकास के विकल्प
• बलियापाल आंदोलन 
• गंगा बचाओ आंदोलन 
• मैत्री आंदोलन 
 विश्नोई आंदोलन 
• साइलेंट वैली आंदोलन 
• वन्य जीव संरक्षण 
• भारतीय वन्य जीव संस्थान 
• वन्य जीव ( संरक्षण ) एक्ट 1972 
• भारत के प्रमुख वन्य जीव संस्थान 
• भारत के वन्यजीव अभयारण्य 
• भारत के प्रमुख पक्षी अभयारण्य 
• राष्ट्रीय उद्यान 
• भारत के प्रमुख वन्य अभयारण्य 
• भारत में वन्यजीव संरक्षण की परियोजनाएं 
• प्रोजेक्ट टाइगर 
• प्रोजेक्ट एलीफैंट 
• हाथी मेरा साथी अभियान 
• भारत के एलीफैंट रिजर्व 
• गंगा डॉल्फिन 
• गिद्ध संरक्षण परियोजना 
• समुद्री कछुआ प्रोजेक्ट 
• गैंडा परियोजना 
• गिर सिंह परियोजना 
• हिम तेंदुआ परियोजना 
• लाल पाण्डा परियोजना 
• मगरमच्छ संरक्षण परियोजना 
• मणिपुर थामिन परियोजना कस्तूरी मृग परियोजना 
• प्रोजेक्ट गोदावण 
• शार्कों के संरक्षण हेतु नई नीति 
• प्रसिद्ध दिवस एवं माह 
• कुछ प्रसिद्ध पुरस्कार।
 

ऊर्जा संसाधन 

(Energy Resources)
• पारम्परिक ऊर्जा स्रोत 
• अपारम्परिक / वैकल्पिक ऊर्जा स्रोत 
• सौर ऊर्जा 
• सोलर वाटर हीटर 
• सोलर सिस्टम 
• सोलर ड्रायर 
• लकड़ी शुष्कन यंत्र 
• सोलर कुकर 
• सौर विद्युत 
• सोलर पम्प 
• सोलर डीसी 
• स्ट्रीट लाइटिंग 
• बायोगैस 
• गोबर गैस संयंत्र 
• बायोगैस संयंत्र 
• जलशक्ति 
• पवन ऊर्जा 
• ज्वारीय ऊर्जा 
• हाइड्रोजन 
• तापीय ऊर्जा 
• एल्कोहल 
• लहरें या सागरीय तरंगों से ऊर्जा 
• चुम्बकीय द्रवगतिकी।
 

ओजोन क्षरण 

(Ozone Depletion)
• ओजोन गैस का निर्माण 
• ओजोन परत 
• विविध ओजोन विघटनकारी पदार्थ 
• क्लोरोफ्लोरो कार्बन 
• फ्लूरीनेटेड गैसें 
• समताप और क्षोभमण्डल 
• वायुमंडलीय ओजोन का मापन 
• पराबैगनी किरणे 
• ओजोन परत के क्षरण के बुरे प्रभाव 
• ओजोन छिद्र 
• ओजोन प्रभामण्डल 
• ओजोन परत क्षरण रोकने हेतु उपाय 
• किगाली समझौता।
 

संविधान एवं पर्यावरण संगठन एवं पर्यावरण विशेषज्ञ 

(Constitution & Environment Organisation & Environment Expert)
• वन संरक्षण अधिनियम 1980 
• राष्ट्रीय हरित न्यायाधिकरण 
• वन्य जीव संरक्षण अधिनियम 1972 
• जल प्रदूषण निरोधक एवं नियंत्रण अधिनियम 1974 
• वायु प्रदूषण निरोधक एवं नियंत्रण अधिनियम 1981 
• पर्यावरण शिक्षा केंद्र • कीटनाशक अधिनियम 1968 
• जैव विविधता अधिनियम 2000 
• पर्यावरण संरक्षण अधिनियम 1986 
• जैव विविधता अधिनियम 2002 
• पर्यावरण विशेषज्ञ।
 

प्राकृतिक आपदा एवं आपदा प्रबंधन 

(Natural Disaster and Disaster Management)
• भारत में प्राकृतिक आपदायें 
• आपदा का परिचय 
• प्रकोप
• आपदा प्रबंधन चक्र 
• बाढ़ सूखा 
• भू – स्खलन 
• हिमस्खलन 
• भूकम्प सुनामी 
• चक्रवात 
• ज्वालामुखी 
• राष्ट्रीय आपदा 
• प्रबन्धन नीति।
 

पर्यावरण अद्यतन विशेष 

(संघ एवं राज्य लोक सेवा आयोग की प्रारंभिक एवं मुख्य परीक्षा हेतु)
• ग्रीन जीएनपी 
• ग्रीन जीडीपी 
• ग्रीन इंडेक्स 
• ग्रीन लेखांकन 
• ग्रीन रेटिंग 
• ग्रीन इमारतें 
• ग्रीन पंचायत 
• ग्रीनफील्ड इंवेस्टमेंट 
• ग्रीनफील्ड एयरपोर्ट 
• भुवन गंगा 
• इकोमार्क 
• इको टैक्स 
• सीएनजी 
• हरित भारत मिशन 
• सीसा रहित पेट्रोल
• कार्बन टैक्स 
• कार्बन फुटप्रिंट 
 कार्बन क्रेडिट्स 
• इकोलॉजिकल फुट प्रिंट 
• इकोलॉजिकल ओवर शूट 
• वाटरशेड प्रबंधन 
• पारिस्थितिकीय पर्यटन 
• पर्यावरण मित्र उत्पाद 
• इको क्लब 
• हरित अर्थव्यवस्था 
• हरित डीजल 
• वाटर हार्वेस्टिंग 
• नियामगिरि आंदोलन 
• ग्रीन बोनस 
• ग्रीन टैक्स 
• जीएचए ग्रीन 
• इस्लाम ई – फ्लो 
• एजेंट ऑरेंज 
• एल नीनो 
• ग्लोबल वार्मिंग 
• अम्ल वर्षा 
• ऊष्मा द्वीप मेघाट्रापिक्स 
• ऑर्गेनिक फूड 
• ओजोन थेरेपी प्रोबायोटिक फूड सुपोषण हरित राजमार्ग नीति -2015 
• भारत का प्रथम जैविक 
• राज्य इलेक्ट्रॉनिक नोज 
• ऊर्जा संरक्षण 
• सतत् विकास : एजेंडा 2030 
• स्वच्छ सर्वेक्षण 2017 
• जलवायु शरणार्थी 
• पर्यावरण वाहिनी यूरो मानक 
• सेनदाई प्रोटोकाल 
• बायो प्रास्पेक्टिंग 
• देश का पहला वाइल्ड लाइफ कॉरिडोर 
• क्लाइमा अडाप्ट 
• सफर 
• सार्वभौमिक जलवायु परिवर्तन 
• प्रदूषण गुम्बद 
• डायक्लोफेनाक
• इकोलॉजिकल ओवर शूट 
• मैत्री ऊर्जा संरक्षण 
• जलवायु परिवर्तन पर राष्ट्रीय कार्य योजना 
• भारत में अंटार्कटिका अभियान 
• ग्रीन इण्डिया मिशन 2011 
• एजेण्डा -21 
• पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय 
• ओजोन थेरेपी 
• आक्सीटॉक्सिन 
• स्वपारिस्थितिकी 
• प्रतिचक्रवात 
• वायु प्रदूषण 
• जैव मिश्रण 
• वायुमंडलीय अस्थिरता 
 वायुमंडलीय दाब 
• हिममंडल 
• पर्णपाती वन 
• पारिस्थितिकी विनियमन 
• पर्यावरण प्रत्यक्षण 
• कार्बनिक चक्र 
• बायोम जीव (जैव) भूरसायन चक्र 
• जलवायु अंतराल 
• जलवायु परिवर्तन 
• जलीय चक्र 
• हिमयुग 
• प्राकृतिक परिवर्तनशीलता 
• नाइट्रोजन चक्र
• ऋतु जैविकी .
• प्लवक बेलापवर्ती 
• ओजोन पूर्वगामी 
• जलवाष्प 
• वृक्ष रेखा 
• वेटलैंड 
• सहजीवन 
• उत्तराधिकार 
• लाइकेन 
• भारत एकीकृत तटवर्ती क्षेत्र प्रबंधन परियोजना 
• भारतीय वानस्पतिक सर्वेक्षण 
• भारतीय प्राणी विज्ञान सर्वेक्षण 
• मूंगे की चट्टानें 
• जैव मंडल सुरक्षित क्षेत्र 
• वन्य जीव अपराध नियंत्रण ब्यूरो 
• राष्ट्रीय पशु कल्याण संस्थान 
• आटो ईंधन नीति 
• ताज संरक्षण अभियान 
• खतरनाक पदार्थ प्रबंधन 
• खतरनाक कचरा प्रबंधन 
• ठोस कचरा प्रबंधन 
• रासायनिक सुरक्षा 
• जैव चिकित्सा कचरा प्रबंधन 
• आर्द्रभूमि संरक्षण  
• राष्ट्रीय पर्यावरण जागरूकता अभियान 
• ग्लोब कार्यक्रम 
• राष्ट्रीय हरित न्यायाधिकरण 
• जलवायु परिवर्तन के लिए राष्ट्रीय अनुकूलन कोष 
• ओजोन को क्षति पहुंचाने वाले पदार्थों को चरणबद्ध तरीकों से समाप्त करना 
• वन आच्छादन मानचित्रण 
• आनुवंशिक इंजीनियरी प्राक्कथन समिति 
• आनुवंशिक इंजीनियरी अनुमोदन समिति 
• केंद्रीय चिड़ियाघर प्राधिकरण 
• राष्ट्रीय परिवेशी ध्वनि निगरानी नेटवर्क कार्यक्रम 
• राष्ट्रीय प्रकृति शिविर कार्यक्रम 
• कच्छ वनस्पति और मूंगे की चट्टानों का संरक्षण और प्रबंधन 
• प्लास्टिक कचरा प्रबंधन 
• फ्लाई ऐश का इस्तेमाल राष्ट्रीय नदी संरक्षण परियोजना।
 

पर्यावरण से संबंधित कार्यक्रम, सम्मेलन, समझौता, रिपोर्ट एवं संगठन  

• संयुक्त राष्ट्र पर्यावरण कार्यक्रम 
• जेनेवा प्रोटोकाल 1925 
• आईयूसीएन • स्टॉकहोम समझौता 
• वर्ल्ड वाइल्ड लाइफ फण्ड 
• साइट्स 
• ट्रैफिक: वन्यजीव व्यापार निगरानी नेटवर्क 
• यूनाइटेड नेशंस फोरम ऑन फॉरेस्ट
• द बोटेनिकल सर्वे ऑफ इंडिया 
• विज्ञापन एवं पर्यावरण केंद्र 
• आधारी समझौता 
• जुलॉजिकल सर्वे ऑफ इंडिया 
• अन्तर्राष्ट्रीय जल प्रबंधन संस्थान 
• कल्पवृक्ष • वियना सभा 
• द वाइल्ड लाइफ इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया 
• वन्यजीव तस्करी के विरुद्ध गठबंधन 
• अंतर्राष्ट्रीय उष्ण कटिबंधीय काष्ठ संगठन 
• भारतीय वन्य जीव संस्थान 
• बर्ड लाइफ इंटरनेशनल उत्कृष्ठता केंद्र 
• सीपीआर एनवायरमेंटल सेंटर 
• वानिकी अनुसंधान संगठन 
• प्रवासी जंगली प्रजातियों के संरक्षण पर सम्मेलन 
• टोरण्टो विश्व सम्मेलन 
• वर्ल्ड नेचर ऑर्गनाइजेशन 
• हरित जलवायु कोष 
• सीपीसीबी के दायित्व एवं कार्य 
• वर्ल्ड वाच इंस्टीट्यूट 
• वर्ल्ड रिसोर्सेज इंस्टीट्यूट 
• पृथ्वी शिखर सम्मेलन 
• जीव संरक्षण निकाय 
• रियो +20 घोषणा पत्र : द फ्यूचर वी वांट 
• वन्य जीव प्रभाग 
• क्योटो प्रोटोकाल 
• अंतर्राष्ट्रीय भूमण्डल जीवमण्डल कार्यक्रम 
• वर्ल्ड कंजरवेशन मानीटरिंग सेंटर 
• वन्य जीव संरक्षण सोसाइटी 
• वेटलैंड इंटरनेशनल अंतर्राष्ट्रीय अभिकरण 
• ओजोन प्रकोष्ठ 
• हिमनद प्राधिकरण 
• राष्ट्रीय नदी संरक्षण निदेशालय 
• ग्रीनपीस 
• पर्यावरणीय लोकतंत्र सूचकांक 
• केंद्रीय आर्द्र भूमि विनियामक प्राधिकरण 
• बायो कार्बन फंड एनिशिएटिव फॉर सस्टनेबल फारेस्ट लैंडस्केप 
• वानिकी शिक्षा प्रशिक्षण और विस्तारण 
• राष्ट्रीय वानिकीकरण और पारिस्थितिकी विकास बोर्ड 
• सहस्राब्दी पारितंत्र मूल्यांकन 
• राष्ट्रीय प्राकृतिक इतिहास संग्रहालय 
• मोंट्रेक्स रिकॉर्ड 
• आर्द्रभूमियों पर रामसर सम्मेलन 1971 
• राष्ट्रीय बाघ संरक्षण प्राधिकरण 
• आपदा प्रबंधन 
• निकेत 
• जलवायु परिवर्तन पर विभिन्न सम्मेलन 
• राष्ट्रीय संगठन एवं अभिकरण 
• ग्रीन एशिया 
• पीपुल्स वर्ल्ड वाटर फोरम 2004 
• जोहांसबर्ग पृथ्वी सम्मेलन 
• बर्टलैण्ड रिपोर्ट 
• कीटनाशक प्रतिपादन तकनीक संस्थान 
• जलवायु परिवर्तन पर संयुक्त राष्ट्र सम्मेलन 
• बेलाजियो घोषणा – पत्र 
• विश्व बैंक समूह की पर्यावरण रणनीति 2012-22 
• ग्लोबल ट्रेण्ड्स इन एनर्जी इन्वेस्टमेंट 2016 रिपोर्ट 
• भारत जलवायु कार्य योजना 2030 
• कार्बन उत्सर्जन कटौती 
• स्टेट ऑफ द वल्र्ड्स प्लांट्स रिपोर्ट 2016 
• पेरिस करार  
• संयुक्त राष्ट्र का REDD कार्यक्रम 
• इण्डिया एण्ड स्टेट ग्लोबल 
• एयर रिपोर्ट 2017 
• फॉरेस्ट इन्वेस्टमेंट प्रोग्राम 
• भूरेलाल कमेटी रिपोर्ट 
• खुले में शौचमुक्त भारत के 11 राज्य 
• अर्थ ऑवर अभियान : 2018 
• भारत के सर्वाधिक प्रदूषित शहर : 2018 
• पर्यावरणीय निष्पादन सूचकांक : 2018
 
Vision ias पर्यावरण पार्ट 1Download
Vision ias पर्यावरण पार्ट 2Download

(1) Natural Environment (प्रयकृतिक पर्यावण):

प्रकृतिक पर्यावरण में वो होता है जो पृथ्वी द्वारा बना होता है जिसमे इसी वस्तुए आती है जो पृथ्वी द्वारा बनी है जैसे की पेड़+ पौधे जिव जन्तु नदी तालाब हवा बारिश ऐसी वस्तुए जो पृथ्वी द्वारा ही बनी है उसे प्रकृतिक पर्यावरण कहते है|

Built Environment (मानव निमिर्त पर्यावरण):

मानव निर्मित पर्यावण के बारे में आप सब जानते होंगे की मानव निम्रित पर्यावण क्या है और कैसे है फिर भी हम आपको बता दे की इसमें ऐसी वस्तुए आती है जो मानव द्वारा बनाई गई जैसे की मोबाईल, टीवी गाडी मोटर पक्खा कूलर आदि ऐसी वस्तुए जो मानव द्वारा बनाई गई है वो मानव निम्रित पर्यावरण में आती है|DOWNLOAD PDFदोस्तों आज की हमारी पीडीऍफ़ पर्यावरण से संबध्ति है आप इसे आसानी से डाउनलोड कर सकते है हमने डाउनलोड करने के लिए निचे लिंक दी गई है यह पीडीऍफ़ आने वाले सभी सरकारी एग्जाम में बोहत ही महत्वपूर्ण साबित हो सकती हैEnvironment हम सब को सतर्क कर रहा है की अभी भी अगर हमने पर्यावरण का सोच समज के इस्तेमाल नहीं किया तो आने वाले समय में सबसे ज्यादा नुकसान मनुष्य को ही होगा और धीरे धीरे हमारी पृथ्वी नष्ट हो जायेगी हमे सर्तक होना चाहिए की हमे पेड़ नहीं काटना चाहिए ज्यादा से ज्यादा पेड़ लगाए और ज्यादा पानी फ़ालतू वेस्ट ना करे मनुष्य को आने वाले समय के बारे सोचना बोहत जरुरी है

Social-Cultural Environment (सांस्कृतिक पर्यावरण):

इसमें समस्त भूस्वरूप बस्तिया एव परिवहन मार्ग कृषि छेत्र उद्योग यातायात एव परिवहन संचार के साधन विभिन्न संस्थाओ आदि सम्मलित है|

Power of Enviroment (पर्यावरण की शक्तिया):

सूर्यातय पृथ्वी की दैनिक एव वार्षिक गति गुरुत्वाकषर्ण शक्ति ज्वालामुखी क्रियाये भूपटल की गति आदि इन शक्तियों के तल से पृथ्वी पर अनेक क्रियाये सम्पर्ण होती है

Processes (प्रक्रियाये)

भूमि का अपरदन निक्षेपण ताप किरण संचालन व संवहन वायु एव जल की गतिया जीवो की उतपति विकास और उनका विनाश आदि क्रियाये सम्मलित की जाती है पार्कतिक पर्यावरण के तत्व (1) भाववाचक तत्व:> क्षेत्रीय विस्तार और आकार प्रादेशिक शवरुप पाकृतिक स्थिति भौगोलिक स्थिति ज्यामितीय स्थिति आते है (2). पाकृतिक तत्व > में मौसम जलवायु स्थलाकृतिक मिट्टी चटाने कनीज महा सागर धरातलीय जल भूमिगत और तटीय क्षेत्र जैविक तत्व सम्मलित हैसही माना जाए तो Environment हमारे भविष्य पर आधारित है:> आप सब को पता है की वायु प्रदूषण ने हमारी पृथ्वी पर बोहत हानि पहुंचाई है जिसके कारण हमारी पृथ्वी पर प्रदूषण की मात्रा भड़ गई है और इसी के साथ साथ हमारे सरीर में कई प्रकार की बीमारिया उत्पन हो जाती है आप सभ जानते है की इतना प्रदूषण आता कहा से है इतना प्रदूषण भी मनुष्य ही फैलाता है जिसके कारन हमारी पृथ्वी पर आज इतनी ज्यादा प्रदूषण की मात्रा है अगर इसे कम करना है तो मनुष्य को वो सब बंद करना होगा जिससे प्रदूषण की मात्रा पैदा होती है इसे नष्ट करने के लिए हमे चिमनी एक ऐसा उपकरण है जिससे प्रदूषण उतपन होता है और पुरानी गाड़िया जिसका इंजन ख़राब हो चूका है फिर भी मनुष्य उसको चलाता है और वो प्रदूषण उतपन करती है हम सब अपने आस पास देखते है की ऐसी बोहत सी फैक्ट्रियां है जिसमे प्रदूषण की मात्रा बोहत ज्यादा होती है माना जाए तो हमारी पृथ्वी पर ज्यादा प्रदूषण फैला है तो फेक्ट्रियो -और गाड़ियों की वजह से अगर मनुष्य टाइम पर वस्तुओ का ध्यान रखे तो प्रदूषण की मात्रा कम हो सकती है हमारे आने वाले समय में हमारी पृथ्वी पर ये प्रदूषण बोहत ज्यादा हावी हो जाएगा जिसके कारन मनुष्य को किसी न किसी तरह की बीमारिया होती रहेगी है ?पर्यावरण सरक्षण समस्या:> आप सब जानते है की आज के युग में विज्ञान कितना आगे पहुंच चूका है और विज्ञानं का रोज रोज पर्यावरण के साथ नये- नये अविष्कार करने से पर्यावरण का सतुलन बिगड़ चूका है और हमारी हरी भरी पृथ्वी को नष्ट किया जा रहा है

Environment Notes in Hindi PDF

 

CLICK NOW DOWNLOAD PDF

exampura.com एक ऑनलाइन मच है जहा आप हर तरिके के एग्जाम की तैयारी कर सकते है जैसा PSC, SSC CGL, BANK, RAILWAYS, RRB NTPC, और अन्य एग्जाम की पीडीऍफ़ भी डाउनलोड कर सकते हैयह पोस्ट आप सभी स्टूडेंट्स की सरकारी एग्जाम की तैयारी को ध्यान में रखते हुए बनाई गई है हमने इस पोस्ट में आपके लिए सभी जानकारी उपलबध करने का प्रयास किया है अगर आपको यह पोस्ट पसंद आती है तो इसे शेयर करना न भूले क्योकि आपका एक शेयर हमे आपके लिए सटीक जानकारी के साथ लेटेस्ट न्यूज़ एंड अपडेट लाने में मदद करेगा हम आशा करते है आप हमारे बनाये गए कंटेंट से संतुष्ट होंगे अगर आपको किसी भी प्रकार की त्रुटि या कमी लगती है तो आप कमेंट बॉक्स में हमे अपना सुझाव दे सकते है या हमे डायरेक्ट इस मेल – [email protected] पर मेल कर सकते है|

Other Links: